Dosti Shayari In Hindi | Dosti Shayari 2 Line - दोस्ती शायरी

Dosti Shayari:- हेल्लो दोस्तों स्वागत है आपका हमारी इस नई पोस्ट में जिसमे आपको अ‍पने दोस्तो के साथ शेयर करने के लिए Dost Ke Liye Shayari और Dosti Shayari Status के सरे स्टेटस मिलेंगे जिनको आप यहा से Copy करके अपने स्टेटस या अ‍पने दोस्तो के साथ शेयर कर सकते है। अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे।


Dosti Shayari Attitude In Hindi । Dosti Shayari Status


Dosti Shayari


जो कोई समझ न सके वो बात है हम, जो ढल के नई सुबह लाये वो रात हैं हम, छोड़ देते हैं लोग रिस्ते बनाकर यूँ ही, जो कभी न छूटे ऐसा साथ हैं हम।


छु ना सकू आसमान को तो कोई गम नहीं बस छु जाओ दोस्तों के दिल को ये भी तो आसमान से कम नई।


सोचा ना था कभी ऐसी दोस्ती होगी मंजिलों के साथ राहें भी हसीन होगी जन्नत की गलियों के ख्वाब क्यों देखूं अगर हम सारे दोस्त साथ होंगे तो नरक में भी मस्ती होगी।


सच्ची है मेरी दोस्ती आजमा के देखलो, करके यकीं मुझ पे मेरे पास आ के देखलो. बदलता नहीं कभी सोना अपना रंग, जितनी बार चाहे आग लगा कर देखलो।


छोटी-छोटी शरारतों का अंजाम है दोस्ती, कहे-अनकहे रिश्तों का पैगाम है दोस्ती, दिन-रात की मस्ती का नाम है दोस्ती, लेकिन आपके बिना बिल्कुल बेजान है ये दोस्ती।


आज फिर आइना हमसे पूछता है, की तेरी आँखों में नमी क्यों है, जिसकी दोस्ती में खुद को भुला दिया, फिर उसकी दोस्ती में कमी क्यों है।


दोस्ती वो नहीं जो जान देती है दोस्ती वह भी नहीं जो मुस्कुराने देती है अरे सच्ची दोस्ती तो वह है जो पानी में गिरा हुआ आंसू भी पहचान लेती है।


रिश्तों की यह दुनिया है निराली, सब रिश्तों से प्यारी है दोस्ती तुम्हारी, मंज़ूर है आँसू भी आखो में हमारी, अगर आजाये मुस्कान होंठों पे तुम्हारी।


वो किसी और की ख़ातिर हमें भूल भी गए तो कोई बात नहीं, हम भी तो भूल गए थे सारा जहां उनके ख़ातिर।

 


Dosti Shayari



दोस्ती में दोस्त, दोस्त का ख़ुदा होता है, महसूस तब होता है जब वो जुदा होता है।


आपकी दोस्ती ने हमें जीना सिखा दिया, रोते हुए दिल को हँसना सिखा दिया, कर्ज़दार रहेंगे हम उस खुदा के, जिसने आप जैसे दोस्त से मिला दिया।


ना तुझसे पैसों की चाहत है ना मोहब्बत की गुजारिश है, कि ना तूहगसे पैसों की चाहत है ना मोहब्बत की गुजारिश है, मेरे यार तु हमेशा खुश रहें रब से मेरी बस यही चाहत है।


फिर न सिमटेगी अगर दोस्ती बिखर जायेगी, ज़िन्दगी जुल्फ नहीं जो फिर से संवर जायेगी, जो ख़ुशी दे तुम्हें थाम लो दामन उसका, ज़िन्दगी रो कर नहीं हास् कर गुज़र जायेगी।


हर दुआ मेरी क़ुबूल हो गयी है , तेरे जैसी दोस्त जो मुझे मिल गयी है।


सच्चा दोस्त वही होता है जो हमे कभी गिरने न दे, वो न कभी किसी की नज़रो में गिरने दे, और न कभी किसी के कदमो में गिरने दे।


दिल की गलियों में गम न हो, बस ये दोस्ती हमारी कम न हो, ये है दुआ हमारी कि तुम खुश रहो, क्या पता हम कल हो न हो।


ज़िन्दगी नहीं हमे दोस्तों से प्यारी, दोस्तों के लिए हाजिर है जान हमारी, आँखों में हमारी आँसू है तो क्या, खुदा से भी प्यारी है मुस्कान तुम्हारी।

 

Dost Ke Liye Shayari


शुक्रिया ए दोस्त मेरी जिंदगी में आने के लिए हर लम्हों को इतना खूबसूरत बनाने के लिए तू है तो हर खुशी पर मेरा नाम लिख गया है शुक्रिया मुझे इतना खुश नसीब बनाने के लिए।


दोस्ती इंसान की ज़रूरत है, दिलो पे दोस्ती की हुकमत है, आपके प्यार की वजह से ज़िंदा है हम, वरना खुदा को भी हमारी ज़रुरत है।


आसमान से तोड़ कर तारा दिया है आलम ए तन्हाई में एक शरारा दिया है मेरी किस्मत भी नाज़ करती है मुझे पे खुदा ने दोस्त ही इतना प्यारा दिया है।


ज़िन्दगी के सारे गम क्यों बाँट लेते हैं दोस्त, क्यों ज़िन्दगी में साथ देते हैं दोस्त, रिश्ता तो सिर्फ उनसे दिल का होता है जी, फिर भी क्यों हमे अपना मान लेते हैं दोस्त।


इश्क़ और दोस्ती मेरे दो जहान है, इश्क़ मेरी रूह, तो दोस्ती मेरा ईमान है। इश्क़ पर तो फ़िदा कर दूँ अपनी पूरी ज़िंदगी, पर दोस्ती पर तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है।


अगर दिल न मिले तो प्यार अधूरा होता है, चाँदनी के बिना चाँद कब पूरा होता है, दोस्तों की भूल कर ज़िन्दगी कटती नहीं, क्यूँकी हर एक फ्रेंड जरूरी होता है।


अगर दिल न मिले तो प्यार अधूरा होता है चाँदनी के बिना चाँद कब पूरा होता है दोस्तों की भूल कर ज़िन्दगी कटती नहीं क्यूँकी हर एक फ्रेंड जरूरी होता है।

 


Dosti Shayari 2 Line



दोस्ती से बड़ी चाहत क्या होगी, दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी, जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा, उसे ज़िंदगी से शिकायत क्या होगी।


वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे, तुम्हे भूल कर जियूं ये खुदा न करे, रहे तेरी दोस्ती मेरी ज़िन्दगी बन कर, ये बात और है ज़िन्दगी वफ़ा न करे।


आपकी हमारी दोस्ती सुरों का साज है, आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ है, अब चाहे कुछ भी हो जाये जिंदगी में, दोस्ती वैसे ही रहेगी जैसे आज है।


तेरी दोस्ती में खुद को महफूज़ मानते हैं हम दोस्तो मे तुम्हे सबसे अज़ीज़ मानते हैं तेरी दोस्ती के साए में ज़िंदा हैं हम तो तुझे खुदा का दिया हुआ ताबीज़ मानते है।


याद आये तो आँखें बंद न करना, हम चले जाए तो गम न करना, ज़रूरी नहीं कि हर रिश्ते का कोई नाम हो, पर दोस्ती का एहसास दिल से कभी कम न करना।

See Also:


दोस्ती की महफ़िल सजे ज़माना हो गया, लगता है खुल के जिए ज़माना हो गया, काश कही’न मिल जाए वो काफिला दोस्तों का, अपनों से बिछड़े अब मुझे ज़माना हो गया।


हमारी दोस्ती एक-दूजे से ही पूरी है ,वरना रास्ते के बिना तो मंज़िल अधूरी है।


कोण कहता है की दोस्ती बराबर वालों में होती है सुबह के गम शाम को पुराने लगते है।


अच्छा वक्त से ज्यादा अच्छा दोस्त अजीज रखो क्योंकि एक अच्छा दोस्त बुरे वक्त को भी अच्छा बना देता है।


गुनाह करके सजा से डरते है, ज़हर पी के दवा से डरते है, दुश्मनो के सितम का खौफ नहीं हमे, हम तो दोस्तों के खफा होने से डरते है।


किस हद तक जाना है ये कौन जानता है, किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है, दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो, किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है।


कभी मिल सको तो इन पंछियो की तरह बेवजह मिलना ए दोस्त, वजह से मिलने वाले तो न जाने हर रोज़ कितने मिलते है।


ऐ दोस्त जब कभी तू बहुत उदास होगा, मेरा ख्याल तेरे दिल के आस-पास होगा, दिल की गहराईयों से जब भी करेगा याद, तुझे हमारे करीब होने का एहसास होगा।

 


Dosti Shayari Attitude



तुम जिन्दगी भर साथ रहोगे ये भरोसा है तेरी दोस्ती तो खुदा का अनमोल तोफहा हैं।


इश्क़ और दोस्ती मेरे दो जहान है, इश्क़ मेरी रूह, तो दोस्ती मेरा ईमान है। इश्क़ पर तो फ़िदा कर दूँ अपनी पूरी ज़िंदगी, पर दोस्ती पर तो मेरा इश्क़ भी कुर्बान है।


दोस्ती नज़ारों से हो तो उसे कुदरत कहते हैं, चाँद-सितारों से हो तो जन्नत कहते हैं, हसीनों से हो तो मोहब्बत कहते हैं, और आपसे हो तो उसे किस्मत कहते हैं।


शहंशाही नहीं ईसानियत अदा कर मेरे मौला, मुझे लोगो पर नहीं दिलो पर राज करना है।


भरोसा रखो हमारी दोस्ती पर, हम किसी का दिल दुखाया नही करते, आप और आपका अंदाज़ हमे अच्छा लगा, वरना हम किसी को दोस्त बनाया नही करते।


दोस्त थे फिर मोहब्बत हो गई मोहब्बत का तो पता नहीं फिर दोस्ती भी खत्म हो गई।

 


Dosti Shayari Attitude 2 Line



दोस्ती चीज नहीं जताने की, हमें आदत नहीं किसी को भुलाने की, हम इसलिये आपसे कम बात करते हैं, की नजर लग जाती है रिश्तों को जमाने की।


झूठ बोलने का रियाज़ करता हूँ सुबह और शाम मैं, सच बोलने की अदा ने हमसे, कई अजीज़ 'यार' छीन लिये।


हम आपसे सच्ची दोस्ती रखते है, मन करे तो कभी आजमा के देख लेना, हम तो है 22 कैरेट खरा सोना, चाहों तो कभी भट्टी में जला के देखना।


लोग तो प्यार में पागल होते हैं, हम तो दोस्ती में पागल हैं।।


आपकी हमारी दोस्ती सुरों का साज है, आप जैसे दोस्त पर हमें नाज़ है, अब चाहे कुछ भी हो जाये जिंदगी में, दोस्ती वैसे ही रहेगी जैसे आज है।


इरादा तो दोस्ती का था, लेकिन मोहब्बत हो गयी।


हम अपने आप पर गुरूर नहीं करते, किसी को प्यार करने पर मजबूर नहीं करते, जिसे एक बार दिल से दोस्त बना लें, उसे मरते दम तक दिल से दूर नहीं करते।


दोस्ती तो जिंदगी का एक खूबसूरत लम्हा है, जिसका अंदाज सब रिश्ते से अलबेला है, जिसे मिल जाए वह तन्हाई मे भी खुशी है, और जिसे ना मिले तो वो भीड मे भी अकेला है।

 

Dosti Shayari Attitude In Hindi


दोस्ती का शुक्रिया कुछ इस तरह अदा करूँ,आप भूल भी जाओ तो मैं हर पल याद करूँ, खुदा ने बस इतना सिखाया हैं मुझे, कि खुद से पहले आपके लिए दुआ करूँ।


हर आहट तुम्हे एहसास हमारा दिलाएगी, हर हवा का झोंका खुशबु हमारी लाएगा, हम दोस्ती कुछ ऐसी निभाएंगे, की हम हो न हो तो हमारी याद तुम्हे सताएगी।


तूफानों ​की दुश्मनी से न बचते तो खैर थी​, साहिल से दोस्तों के भरम ने डुबो दिया​।

See Also:


तेरे आते ही दोस्त महफ़िल सजने लगती है ,और बेरंग ज़िंदगी भी रंगने लगती है।


जिसे मौका मिलता है पीता जरुर है दोस्त, जाने क्या मिठास है गरीब के खून में।

Dosti Shayari Hindi



कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता, कुछ दिन बात न करने से बेगाना नहीं होता, दोस्ती में दुरी तो आती रहती हैं, पर दुरी का मतलब भुलाना नहीं होता।


वो किसी और की ख़ातिर हमें भूल भी गए तो कोई बात नहीं, हम भी तो भूल गए थे सारा जहां उनके ख़ातिर।


जब कोई ख्याल दिल से टकराता है, दिल न चाहकर भी खामोश रह जाता है कोई सब कुछ कहकर दोस्ती जताता है कोई कुछ न कहकर दोस्ती निभाता है।


बादशाह तो में कहीं का भी बन सकता हूँ, पर तेरे दिल की नगरी में हुकूमत करने का मज़ा ही कुछ अलग है।


कहीं अंधेरा तो कहीं शाम होगी, मेरी हर ख़ुशी तेरे नाम होगी, कभी मांग कर तो देख हमसे ए दोस्त, होंठो पर हसीं और हथेली पर जान होगी।

 


Dosti Shayari Hindi



दील से लिखी बात दील को छू जाती है, ये अक्सर अनकही बात कह जाती है, कुछ लोग दोस्ती कॆ मायनॆ बदल दॆतॆ है, और कुछ लोगो कि दोस्ती सॆ दुनिया बदल जाती है।


मेरी दोस्ती का फायदा उठा लेना, क्युंकी मेरी दुश्मनी का नुकसान सह नही पाओगे।


तेरी दोस्ती में ज़िन्दगी में तूफान मचाएंगे, तेरी दोस्ती में दिल के अरमान सजायेंगे, अगर तेरी दोस्ती ज़िन्दगी भर साथ दे, तो हम दोस्ती में मौत को भी पीछे छोड़ जायेंगे।


तुम शराफ़त को बाज़ार में क्यूँ ले आए हो, दोस्त ये सिक्का तो बरसों से नहीं चलता।


आसमान हमसे नाराज है तारों का गुस्सा भी बेहिसाब है, मुझसे जलते हैं यह सब क्योंकि चांद से बेहतर दोस्त जो हमारे पास है।


दाग दुनिया ने दिए ज़ख्म ज़माने से मिले, हमको तोहफे ये तुम्हें दोस्त बनाने से मिले।


यारी नहीं तुम ही जीवन की आस हो रिश्तो में नहीं एतबार का मीनिंग हो तुम हर नयें उगते दिन की शुरुवात तुम हो।

 


Dosti Shayari In Hindi



जैसे ज़ख्म के बिना ज़िन्दगी नहीं , तुम्हारे बिना दोस्त हमारी बंदगी नहीं।


दम नहीं किसी में की मिटा सके हमारी दोस्ती को, जंग तलवारों को लगता है जिगरी यार को नहीं।


जब दोस्ती सच्ची और मजबूत होती है, तो उसे जताने की ज़रूरत नही होती है, चाहे दोस्त कितना भी दूर चला जाये, उसे पास लाने की ज़रूरत नही होती है।


बेवजह है तभी तो दोस्ती है, वजह होती तो साजिश होती।


कुछ खोये बिना हमने पाया है, कुछ मांगे बिना हमें मिला है, नाज़ है हमें अपनी तक़दीर पर जिसने आप जैसे दोस्त से मिलाया है।

 


Dosti Shayari In Hindi



युं खामखा न करो रंगों को मुजपे बरबाद दोस्तो, हम तो पहले से ही रंगे हुऐ है इश्क में।


लाखों की हँसी तुम्हारे नाम कर देंगे, हर खुशी तुम पर कुर्बान कर देंगे, जिस दिन हो कमी मेरी दोस्ती में बता देना, उस दिन ज़िन्दगी को आखिरी सलाम कह देंगे।


वो शख्स फिर से मुझे तोड़ गया आज, जिसे कभी हम पूरी दुनिया कहा करते थे।


रिश्तों से बड़ी चाहत और क्या होगी, दोस्ती से बड़ी इबादत और क्या होगी, जिसे दोस्त मिल सके कोई आप जैसा, उसे ज़िन्दगी से कोई और शिकायत क्या होगी।

 


Dosti Shayari Attitude In Hindi



रौशनी के लिए दिया जलता हैं शमा के लिए परवाना जलता हैं, कोई दोस्त न हो तो दिल जलता हैं, और दोस्त आप जैसा हो जो ज़माना जलता हैं।


कही धूप है तो कही छाय भी होगी, मेरी हर ख़ुशी यार तुम्हारें नाम होगी, कबही माग कर तो देख मुझसें ऐ दोस्त, होठो पे हसी हथेली पे मेरी जान हाजिर होगी।


ना तुम दूर जाना ना हम दूर जाएंगे ,अपने-अपने हिस्से की दोस्ती हम निभाएंगे।


गम न हो वहां जहां हो फसाना तेरा, खुशिंया ढूंढती रहे आशियाना तेरा. वो वक़्त ही न आए जब तू उदास हो, ये दुनिया भुला न सके मुस्कुरना तेरा।

 


Dosti Shayari Status



गुनगुनाना तो तकदीर में लिखा कर लाए थे, खिलखिलाना दोस्तों से तोहफ़े में मिल गया।


हँसी छुपाना किसी को गंवारा नहीं होता, हर मुसाफिर ज़िन्दगी का सहारा नहीं होता, मिलते है लोग इस तनहा ज़िन्दगी में पर, हर कोई दोस्त तुम सा प्यारा नहीं होता।


हम मतलबी नहीं की चाहने वालो को धोखा दे, बस हमें समझना हर किसी की बसकी बात नही।


बेशक थोड़ा इंतजार मिला हमको, पर दुनिया का सबसे हसीं यार मिला हमको, न रही तमन्ना अब किसी जन्नत की, तेरी दोस्ती में वो प्यार मिला हमको।


हर मोड़ पर मुकाम नहीं होता, दिल के रिश्तो का कोई नाम नहीं होता, चिराग की रौशनी से ढूँढा है आपको, आप जैसा दोस्त मिलना आसान नहीं होता।


दौलत से दोस्त बने वह दोस्त नहीं, पर सच कहूं तो दोस्त जैसी कोई दौलत नहीं।

 


Dost Ke Liye Shayari



दिए तो आंधी में भी जला करते हैं, गुलाब तो काँटों में ही खिला करते हैं, खुशनसीब बहुत होती है वो शाम, जिसमे दोस्त आप जैसे मिला करते हैं।


यारी तो जीवन का एक खुशनुमा लम्हा है, जिसका रुतबा सब रिश्तों से अल बेला है, जिन्हें नसीब हो जाए वह गम मे भी खुश है,  और जिन्हें न नसीब तो वो भरे आंगन मे अकेला है।

 


You May Also Like:-

Post a Comment

0 Comments