965+ Mohabbat Shayari In Hindi | ❤️Mohabbat Ki Shayari

Mohabbat Shayari:- Hello friends, welcome to our new post, in this post we have shared shayari and status related to Mohabbat Wali Shayari. People also use Mohabbat Shayari to impress their wife or girl friend, you can share this on your social media by copying Mohabbat Hindi Shayari, Mohabbat Shayari 2 Lines, Mohabbat Shayari Status from this post. If you like this post then do share this post with your friends who are in love.


Mohabbat Shayari Hindi | Mohabbat Wali Shayari


Mohabbat Shayari


जहर से अधिक खतरनाक हैं यह प्यार जो भी चख ले मर मर के जीता हें । 

 

प्यार मोहब्बत आशिकी.ये बस अल्फाज थे. मगर.. जब तुम मिले तब इन अल्फाजो को मायने मिले । 


वो किसी और की ख़ातिर हमें भूल भी गए तो कोई बात नहीं, हम भी तो भूल गए थे सारा जहां उनके ख़ातिर।


मोहब्बत की आजमाइश दे दे कर थक गया हूँ ऐ खुदा. किस्मत मेँ कोई ऐसा लिख दे.जो मौत तक वफा करे ।


खत्म कर दी थी जिन्दगी की हर खुशियाँ तुम पर, कभी फुर्सत मिले तो सोचना मोहब्बत किस ने की थी । 


आपको अपनों से मिलाना हैं हमे किसी दिन आपको दुल्हन बनाना हैं हमे ।


क्या ख़ूब कहा किसी ने जिस मुहब्बत का जवाब न आये उसे इश्क़ कहते हैं, अपने होठों से मुझको चख तो जरा  मैं भी शायद शराब हो जाऊँ।


दिल में आहट सी हुई रूह में दस्तक गूँजी, किस की खुशबू ये मुझे मेरे सिरहाने आई।

 

Mohabbat Hindi-Shayari


बड़ा गजब किरदार है मोहब्बत का, अधूरी हो सकती है मगर ख़तम नहीं 


मिलने को तो दुनियाँ मे कई चेहरे मिले पर तुझ सी मोहब्बत तो हम खुद से भी ना कर पाये 


उनका मिलना भी एक खूबसूरत कहानी होगी, उनका प्यार पाना ही ज़िंदगानी होगी, मुस्कुराहट भी उनके दम से होगी, अगर वो दर्द भी दे तो उनकी मेहरबानी होगी।


मेरी मोहब्बत की सच्चाई को तो देख, अब मैं तेरे नाम वालो से भी मोहब्बत से पेश आता हूं... 


मेरे अलावा  किसी और को  अपना महबूब  बना कर देख ले तेरी हर धडकन तुझसे  ये खुद  कहेगी, उसकी वफा  मे कुछ और  बात थी... 


फ़ासले तो बढ़ा रहे हो मगर इतना याद रखना, मोहब्बत बार बार इंसान पर मेहरबान नहीं होती  


ये मोहब्बत है..मर जाने से भी जाती नहीं, तू कोई कैदी नही जो रिहा हो जायेगा....  


बहक जाने देँ मुझे मेरे यार की मोहब्बत में ये वो नशा है जो .मेरे सर से कभी उतरता नही  


ख्वाइश तो यही है कि तेरे बाँहों में पनाह मिल जाये,शमा खामोश हो जाये और शाम ढल जाये,प्यार तू इतना करे कि इतिहास बन जाये,और तेरी बाँहों से हटने से पहले शाम हो जाये  


तेरी आँखों में मेरी शायरियाँ हैं, मेरी शायरियों में तेरा चेहरा है...


सोचते है, अब हम भी सीख ले यारों बेरुखी करना, सबको मोहब्बत देते-देते, हमने अपनी कदर खो दी 

 

Mohabbat-Ki-Shayari


जान है वो हमारी सब उस पे कुर्बान है, ख्वाबों में ही सही लेकिन वो मेरी शान है।


दोनों जानते हैं हम नहीं हैं एक दूसरे के नसीब में पर दिन भी दिन मोहब्बत बेपनाह होते जा रही है।


शायद वो अपना वजूद छोड़ गया है मेरी हस्ती में, यूँ सोते-सोते जाग जाना मेरी आदत पहले कभी न थी।


मुहब्बत की इन्तिहां न पूछिये, इस प्यार की वजह न पूछिये, हर सांस मे समाये रहते हो, कहां बसे हो तुम जगह न पूछिये।


खत्म कर दी थी जिन्दगी की हर खुशियाँ तुम पर, कभी फुर्सत मिले तो सोचना मोहब्बत किस ने की थी....

 

Mohabbat-Ki-Shayari1


ऐ मोहब्बत, तुझे पाने की कोई राह नहीं, तू तो उसे ही मिलेगी जिसे तेरी परवाह नहीं 


अजीब कशमकश में पड़ी है ये ज़िन्दगी साहब, जिसे चाहते हैं उसे पा नहीं सकते और इतना चाहते हैं कि उसे भुला नहीं सकते।


गुरूर जँचता है तुम पर पर मेरे इश्क़ के नशे से थोड़ा कम..


क्यूँ तू मुझे अपना सा लगे, जुदा होकर भी तू मेरा साया सा लगे, कैसे बताऊं अब भी मोहब्बत है तुझसे, तुझे खोकर भी तुझे पाया सा लगे।


रुलाने वाले आखिर हमें रुला देंगे जहर देखकर गहरी नींद में सुला देंगे फिर भी कोई गम नहीं होगा हमें दर्द तो तब होगा जब आप हमें भुला देंगे 

 

Mohabbat-Shayari-2-Lines


तेरे हुस्न को नकाब  की जरुरत ही क्या है न जाने कौन रहता होगा होश में तुझे देखने के बाद ..


कोई मुक़दमा ही कर दो हमारे सनम पर, कम से कम हर पेशी पर दीदार तो हो जायेगा।


तुम्हें कितनी मोहब्बत है मालूम नहीं, मुझे लोग आज भी तेरी कसम दे कर मना लेते है।


जब भी खामोश आँखो से बात होती है ऐसे ही तो इश्क़ की शुरूवात होती है तुम्हारे ही ख़यालो मे हम खोए रहते हैं खबर नही कब दिन गुज़रता है कब रात होती है 

 

Mohabbat-Shayari-Hindi


मोहब्बत से मोहब्बत हो गयी, जब से दिल पे तेरी दस्तक हो गयी, एक अनजानी सी ख़ुशी होती है, जब तू मेरे दिल के करीब होती है.... 


मुझे तुमसे मोहब्बत हो गई है, ये दुनिया खूबसूरत हो गयी है, खुदा से रोज़ तुम्हे मांगता हूँ, मेरी चाहत, मेरी इबादत हो गयी है।


मिलने का दौर और बढ़ाइए मोहब्बत में अब यादों से गुज़ारा नहीं होता।


कुछ अधूरे ख़्वाबों से सुलह कर लेता हूँ, बस इस तरह  रात से सुबह कर लेता हूँ 


खामोश मोहब्बत की एहसास है वो, मेरे ख्वाहिश मेरे जज्बात हैं वो, अक्सर ये ख्याल आता है दिल में, मेरी पहली खोज और आखरी तलाश है वो।


मैने दील के दरवाजे पर लीखा अन्दर आना सख्त मना हे, महोब्बत हंसती हुई आयी और बडे प्यार से कहा माफ करना मै तो अंधी हु.

 

Mohabbat-Shayari-Hindi1


हसरत है सिर्फ तुम्हें पाने की, और कोई ख्वाहिश नहीं इस दीवाने की, शिकवा मुझे तुमसे नहीं खुदा से है, क्या ज़रूरत थी, तुम्हें इतना खूबसूरत बनाने की 


एक हसरत है कि कभी वो भी हमे मनाये, पर ये कम्ब्खत दिल कभी उनसे रूठता ही नही।


कर दे नजरें कर्म तुझ पर मैं तुझ पर ऐतबार करूं दोनों दीवाना हो तेरा ऐसा की दीवानगी की हद को पार कर दूं।


चलो अपनी चाहतें अब नीलाम करते हैं, मोहब्बत का सौदा सारे आम करते है…


तुम अपना साथ हमारे नाम कर दो, हम अपनी ज़िन्दगी अब तुम्हारे नाम करते हैं…

 

Mohabbat-Shayari-Hindi2


आसान है क्या ऐसी मोहब्बत करना जिसके बदले मोहब्बत ना मिले 


अदा है ख्वाब है तस्कीन है तमाशा है. मेरी इन आँखों में एक शख्स बेतहाशा है 


ज़िंदगी में मोहब्बत का पौधा लगाने से पहले ज़मीन परख लेना, हर एक मिटटी की फितरत में वफ़ा नहीं होती दोस्तो 


सुनो तुम जब लड़ते हो तो बेहद  अपने लगते हो दिल को अच्छा  लगता है तुम्हारा यूँ  हक़ जताना 


ये रात मेरे कानों में बस इतना कह गयी यार तेरी मोहब्बत अधूरी रह गयी 

 

Mohabbat-Shayari-Hindi


नाराज क्यों होते हो चले जायेंगे तुम्हारी जिन्दगी से बहुत दूर जरा टूटे हुए दिल के टुकङे तो उठा लेने दो।


ये मेहताब चेहरा, ये मखमूर आँखें कहीं उसमें होश मेरा न खो जाए, न देखूं तो न चैन मिले, और देखूं तो मोहब्बत हो जाए…


मेरी किसी भी ख़ता पर नाराज़ ना होना, प्यारी सी मुस्कान अपनी कभी ना खोना, आपकी मुस्कुराहट देख कर सुकून मिलता है, मैं मर भी जाऊं तो उदास मत होना 


मोहब्बत वहाँ होती है जहाँ विश्वास होता है शक की बुनियाद से ही मोहब्बत बरबाद होती है 


सजदे दिल के तराने बहुत हैं, ज़िंदगी जीने के बहाने बहुत हैं, आप सदा मुस्कुराते रहना, आपकी मुस्कुराहट के दीवाने बहुत हैं।


भूले है रफ्ता रफ्ता उन्हें मुद्दतों मे हम. किस्तों मे खुदकुशी का मजा हमसे पुछिये।


मालूम था मालूम है की कुछ भी नहीं हासिल होगा, लेकिन वो इश्क ही क्या जिसमें ख़ुद को तड़पाया ना जाये 


ज़िंदगी चल रही है झूठे रिश्तो की पटरी पर, कोई चेन खींच लो यार मुझे उतरना है..… 

 

Mohabbat-Shayari-Sms


अजीब पैमाना है यहाँ शायरी की परख का, जिसका जितना दर्द बुरा ,शायरी उतनी ही अच्छी.....


मुझे तेरे साथ ही चाहत थी जीने के लिए, वरना मोहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी.... 


तुझे ख्वाबों में पाकर दिल का करार खो जाता है मैं जितना रुको खुद को तुझ से प्यार हो ही जाता है।


कितना प्यार है इस दिल में तेरे लिए, अगर बयां कर दिया तो ……तू नहीं ये दुनिया मेरी दिवानी हो जायेगी..


मोहब्बत झूठी हो सकती है, मगर मोहब्बत में निकले आँसू कभी झूठे नहीं होते।

 

Mohabbat-Shayari-Status


अगर इज्जत खोने का डर हो तो मोहब्बत करना बंद कर दो, इश्क़ की गलियों में आओगे तो चर्चे जरूर होंगे  


आग लगा दूंगा किसी दिन इस दिल की दुनिया में ये तेरा लव लैटर तो नहीं की मैं जला भी न सकू 


होते हैं मौहब्बत में कुछ राज़ की बातें , ऐसे ही तो , हम तुम पे अपना दिल नही हारे… 


मोहब्बत क्या है चलो दो लब्ज़ों में बताते है, तेरा मजबूर करना मेरा मजबूर हो जाना.....


तुम मेरे नहीं हो फिर भी ना जाने क्यूँ दिल करता है, कि उन सबका मुंह तोड़ दूँ जिससे तुम बात करते हो 


बाहों के दरम्यां अब कोई दूरी ना रहे, सीने से लगा लो मुझे, कोई चाहत अधूरी ना रहे ...

 

Mohabbat-Wali-Shayari


लगता है मेरे दिल में भी फेस अनलॉक है जब तुम सामने आती हो तभी खुलता है तभी खुलता है 


लाख चाहूं की तुझे याद न करू मगर...इरादा अपनी जगह बेबसी अपनी जगह...


सौदा कुछ ऐसा किया है तेरे ख़्वाबों ने मेरी नींदों से….या तो दोनों आते हैं …. या कोई नहीं आता 


तेरी मोहब्बत में तो अजब सा नशा है,  तभी तो हम तुमपे फ़िदा है…


न जाने कितना ढूंढा मैंने तुम जैसा कोई तुम मिले तो life जन्नत बन गयी 


क्या लिखूं तेरे बारे में मेरी मोहब्बत की कलम भी शर्मा जाती है मेरी तेरी तारीफ में....


एक रस्म मोहब्बत में भी बनानी होगी, छोड़ के जाए कोई भी शौक से मगर वज़ह एक दूसरे को बतानी होगी…


किया है प्यार आप से, चाहे दुनिया रूठ जाए हमसे, चलती है हमारी सांसे तुमसे, रुक जायेगी धड़कन दूर ना जाना हमसे।




You May Also Like:-

Post a Comment

0 Comments